Tohfa Lyrics – Vayu

Vayu – Tohfa Lyrics is song sung by Vayu. Tohfa Lyrics are written by Vayu And music given by the Vaibhav Pani.

Tohfa Lyrics Song Credits:

Song – Tohfa
Singer – Vayu
Lyrics – Vayu
Music – Vaibhav Pani

Tohfa Lyrics:

Jab tere aas pas rehta hoon main
Din achche jaate hain
Thapkiyan deti hain jab batein teri
Neend achchi aati hai

Mere har dukh ki dawa tu
Main door tujhse raha kyun
Mera hi mujhko pata hai
Tera kya hai tu hi bata de

Main jaanu naa ke
Tera tohfa hoon main ya saza hoon
Kya hoon kya hi kahun
Kyon uljha hoon

Tera tohfa hoon main ya saza hoon
Kya hoon kya hi kahun
Kyon uljha hoon

Hain jo silsile inke sile

Aage ho kya hum jaanein na
Phir bhi jawab dhoondhein to kyon

Tu mujhse mile
Hass ke mile hass ke vida
Iske siwa hum koyi khwab
Dhoondhein to kya

Kal kya ho kisko pata
Yoon baithe sochein bewajah kyun
Hona hain jaisa bhi
Hoga to waisa hi
Phir bhi kabhi sochta hoon main ki

Tera tohfa hoon main ya saza hoon
Kya hoon kya hi kahun
Kyon uljha hoon

Tera tohfa hoon main ya saza hoon
Kya hoon kya hi kahun
Kyon uljha hoon

~~~~END~~~~

Tohfa Lyrics In Hindi:

जब तेरे आस पास रहता हूँ मैं
दिन अच्छे जाते हैं
थपकीयाँ देती हैं जब बातें तेरी
नींद अच्छी आती है
मेरे हर दुख की दवा तू
मैं दूर तुझसे रहा क्यूँ
मेरा ही मुझको पता है तेरा क्या है तू ही बता दे मैं जानू ना के

तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ क्यूँ उलझा हूँ
तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ क्यूँ उलझा हूँ

हैं जो सिलसिले इनके सिले आगे हो क्या
हम जानें ना फिर भी जवाब ढूँढें तो क्यूँ
तू मुझसे मिले हंस के मिले हंस के विदा
इसके सिवा हम कोई ख्वाब ढूँढें तो क्यूँ

कल क्या हो किसको पता यूँ
बैठे सोचें बेवजह क्यूँ
होना हैं जैसा भी होगा तो वैसा ही फिर भी कभी सोचता हूँ मैं की

तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ क्यूँ उलझा हूँ
तेरा तोहफा हूँ मैं या सज़ा हूँ
क्या हूँ क्या ही कहूँ क्यूँ उलझा हूँ”

~~~~END~~~~

Thanks To All For Reading This Lyrics. If You Want To Suggestions To The Lyrics Nepal Please Contact Us.

Our Social Media:

©thelyricsnepal.com

Leave a Reply